Ads Area

मुक़र्रर मुलाकातों में - Mulakat, Luft, Khayalon, Mod par Love Shayari


मुक़र्रर मुलाकातों में
वो लुफ्त ही कहाँ
जो ख़्यालों से परे
किसी मोड़ पर तुम मिल जाओ

Mukarrar Mulakaton Me
Vo Luft Hi Kahan
Jo Khayalon Se Pare
Kisi Mod Par Tum Mil Jao


 

Top Post Ad

Below Post Ad

Shayar Indian पर आपका स्वागत, बेहतरीन Love, Sad, 2 Lines, Suvichar, Anmol Vachan आदि के लिए जुड़े रहे हमारे साथ | For Latest News Updates on Travel, Succes, Art, Nature Environment, Festival, History etc Visit EBNW Story

Ads Area