Ads Area

एहसान किसी का वो रखते नहीं - Ehsaan Shayari, Namak Status, Jhakhm Sad Shayari


एहसान किसी का वो रखते नहीं
मेरा भी चुका दिया
जितना खाया था नमक मेरा
मेरे जख्मों पर लगा दिया

Ehsaan Kisi Ka Vo Rakhte Nahi
Mera Bhi Chuka Diya
Jitna Khaya Tha Namak Mera
Mere Jakhmo Par Laga Diya


 

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads Area