Ads Area

मोहब्बत थी, तब तक चाँद अच्छा था - Breakup Shayari


मोहब्बत थी,
तब तक चाँद अच्छा था
उतर गई,
तो दाग भी दिखने लगे


 

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads Area