Ads Area

गुनाहगारों के आंखों में झूठे गुरुर होते हैं


गुनाहगारों के आंखों में झूठे गुरुर होते हैं,
शर्मिंदा तो यहां सिर्फ बेकसूर होते हैं ।


 

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads Area