Subscribe Us

कोरोना पर शायरी । Hindi Shayari on Corona | Gopaldas Niraj

 


है बहुत अंधियारा,
अब सूरज निकलना चाहिए
जिस तरह से भी हो,
ये मौसम बदलना चाहिए।
- गोपालदास नीरज


Post a Comment

0 Comments