Subscribe Us

मजदूरों पर शायरी, Sad Shayari Status on Majdur

इस दौर-ए-सियासत का
इतना सा फसाना है,
बस्ती भी जलानी है
मातम भी मनाना है. 

मजदूरों पर शायरी, Sad Shayari Status on Majdur