Subscribe Us

यह इश्क़ वाले - Mirza Ghalib Shayari : Ishq. Akla, Mukaddar, Junun

अक़्ल वालों के मुक़द्दर में,
यह जूनून कहाँ ग़ालिब ।
यह इश्क़ वाले हैं,
जो हर चीज़ लूटा देते हैं ।। 

यह इश्क़ वाले - Mirza Ghalib Shayari : Ishq. Akla, Mukaddar, Junun