Subscribe Us

मौसम शायरी । Masuam Shayari :Barso Ki Chahat

मौसम शायरी । Masuam Shayari :Barso Ki Chahat 
जो चाहता हूँ बरसों से
काश वो आज हो जाये
वो आकर टकराये मुझसे
और मौसम खराब हो जाये