Subscribe Us

Mirza Ghalib Shayari Collection in Hindi

आशिकी सब्र तलब और तमन्ना बेताब‌
दिल का क्या रंग करूं खून‍-ए-जिगर होने तक
Mirza Ghalib Shayari Collection in Hindi